ससुराल पहुंची दुल्हन, 2 घंटे बाद दूल्हे की मौत, जिस दरवाजे से आई दुल्हन की डोली, वहीं से उठा दूल्हे का जनाजा

ससुराल पहुंची दुल्हन, 2 घंटे बाद दूल्हे की मौत, जिस दरवाजे से आई दुल्हन की डोली, वहीं से उठा दूल्हे का जनाजा

बेतिया । बेतिया के साठी में मंगलवार को दुल्हन की विदाई करवाकर लौटे दूल्हे की मौत हो गई। घटना साठी थाना के छरदवाली बसंतपुर गांव की है। यहां ससुराल पहुंचने के दो घंटे बाद ही दुल्हन का सुहाग उजड़ गया। दुल्हन के साथ वो जैसे ही घर पहुंचा अचानक उसकी तबीयत बिगड़ गई। परिजन उसे लेकर गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज अस्पताल पहुंचे, जहां डॉक्टर्स ने उसे मृत घोषित कर दिया।
रात की खुशियां मातम में बदली
मनीष छरदवाली की बारात सोमवार को धूमधाम से योगापट्टी थाने के अमैठिया गांव गई थी। धूमधाम से उसकी चंदा कुमारी के साथ शादी हुई। पूरी रात सभी लोगों ने खुशियां मनाई । लेकिन कुछ ही घंटों के बाद शादी की खुशी मातम में बदल गई। दूल्हे की मौत की सूचना मिलते ही लड़की पक्ष के यहां भी चित्कार मच गया। मनीष की मां और उसकी नई-नवेली दुल्हन चंदा का रो-रो कर बुरा हाल है।
बारात जब लड़की के दरवाजे पर पहुंची तो भी मनीष की तबीयत खराब हुई थी। उसे चक्कर आ रहे थे, लेकिन कुछ देर बाद वह ठीक हो गया था। रात में शादी की रस्म पूरी हुई। सुबह चार बजे दुल्हन की विदाई कराकर दूल्हा अपने घर छरदवाली बसंतपुर पहुंचा था।
दूल्हा मनीष अपनी नई-नवेली दुल्हन चंदा को लेकर सुबह अपने घर पहुंचा। गृह प्रवेश होने के बाद मनीष की तबीयत खराब हो गई। दूल्हे की मौत के बाद चंदा बार-बार बेहोश हो जा रही है। वह कह रही है कि तुमने तो रात को ही सात वचन लिए थे, लेकिन एक भी वचन को पूरा किए बिना ही इस दुनिया से चले गए।