संतुलन बिगड़ने से कार खाई में गिरी, दो भाइयों की मौत

संतुलन बिगड़ने से कार खाई में गिरी, दो भाइयों की मौत

सासाराम । धर्मपुरा थाना क्षेत्र के पड़वां मोड़ पर एक ऑल्टो कार के गहरे पानी में पलट जाने से उस पर सवार दो चचेरे भाईयों रोहित और अजीत की घटना स्थल पर ही मौत हो गई। दो अन्य अभिषेक व पुष्पेंद्र बुरी तरह से घायल हैं। यह घटना रात को दो बजे बरांव दिनारा पथ पर घटी। जब ऑल्टो सवार चारों युवक दिनारा के कनियारी गांव में आयोजित एक तिलक समारोह से लौट रहे थे। घटना में मरने वाले दोनों रोहित और अजीत शिवसागर थाना क्षेत्र के भगवलिया गांव के रहने वाले थे। जबकि घायल पुष्पेंद्र और अभिषेक कैमूर जिला के मोहनियां थाना अंतर्गत भरखर गांव के निवासी हैं। घटना के बाद वहां पहुंची धर्मपुरा पुलिस चारों युवकों को गाड़ी से बाहर निकाला। जिन्हें ईलाज के लिए पीएचसी नोखा पहुंचाया। वहां चिकित्सकों ने रोहित और अजीत को मृत घोषित कर दी। वहीं गंभीर रूप से घायल पुष्पेंद्र और अभिषेक बेहतर इलाज के लिए ट्रामा सेंटर वाराणसी रेफर किए गए। धर्मपुरा थानाध्यक्ष ददन राम ने बताया कि घटना के बाद पहुंची पुलिस ने चारों युवकों को बाहर निकालने के बाद दो घायलों से उनके बारे में जानकारी ली। फिर उनके परिजनों को घटना की सूचना देकर सासाराम सदर अस्पताल बुलवाया। मृतक रोहित के पिता धर्मेंद्र दिल्ली में नौकरी करते हैं। जो अपने तीन भाईयों में सबसे बड़ा भाई था। जबकि अजीत के पिता योगेंद्र गांव पर खेतीबाड़ी करते हैं। अजीत अपने दो भाईयों में बड़ा था। इस घटना के बाद भगवलिया में मात्तमी सन्नाटा है।
स्कार्पियो के लाइट से चकमा खा गया ऑल्टो चालक
चारों युवकों में से एक ऑल्टो खुद चला रहा था। जैसे ही पड़वा मोड़ पर पहुंची तो सामने से आ रही एक स्कार्पियो के हेडलाइट के कारण ऑल्टो कार चला रहे युवक की आंखें चकरा गईं। आगे का रास्ता नहीं सुझा जो बायीं तरफ पानी से भरे गड्ढे में गाड़ी सहित जा गिरा। घटना स्थल पर पहुंची पुलिस ने बताया कि पानी के अंदर डूबे गाड़ी में से चारों ने गेट खोलकर बाहर निकलने का प्रयास किया था। जिसमें से एक बाहर निकला भी परंतु ज्यादा चोट आने के कारण अगली सीट पर बैठे दोनों युवकों को बाहर नहीं निकाल पाया। जिनकी मौत हो गई।
 बरांव दिनारा पथ पर रात्रि गश्ती कर रही पुलिस ने घटना से पांच मिनट पहले हीं ऑल्टो सवार युवकों को रोक कर उनकी गाड़ी की कमजोर लाइट देख हिदायत देते हुए धीरे-धीरे आगे बढ़ने को कहा था। जिसका कारण यह था कि आधी रात के बाद सड़क पर कोहरा भी छाने लगा था। पांच मिनट के बाद हीं यह घटना घटी। जो पुलिस की आशंका के अनुरूप हुई। थानाध्यक्ष ने बताया कि तेज गति से आ रहे ऑल्टो कार को रोककर पुलिस टीम ने उन्हें धीरे-धीरे जाने को कहा था। आशंका है घटना के समय उनकी गति ज्यादा रही होगी। जो हादसे का कारण बनी। 
मरने वाले दोनों युवक थे मैट्रिक के परीक्षार्थी 
घटना में मरने वाले दोनों युवक रोहित और अजीत दोनों मैट्रिक के परीक्षार्थी थे। अजीत बिलारी हाई स्कूल का छात्र था। जिसकी परीक्षा गुरूवार से डालमियानगर हाई स्कूल केंद्र पर होने वाली थी। रोहित खरारी हाई स्कूल का छात्र था। जिसकी परीक्षा अकोढ़ीगोला प्रेम नगर हाई स्कूल केंद्र पर गुरूवार को शुरू होने वाली थी। सुबह परीक्षा देने की जल्दी में शादी समारोह से निकले चारों में से दो युवकों की मौत की खबर गुरूवार सुबह भगवलिया स्थित उनके गांव पहुंची। 
बरांव दिनारा पथ का चौड़ीकरण कार्य पिछले वर्ष से चल रहा है। संवेदक द्वारा किया जा रहा धीमा निर्माण और मनमानी से कई जगह बड़े बड़े गड्ढे छोड़ दिए गए हैं। स्थानीय लोगों की मानें तो सड़क अच्छी होती तो स्कार्पियो की हेडलाइट के आगे आंखें चकराने के बाद भी चालक गाड़ी को कंट्रोल कर सकता था, परंतु आगे गड्ढा में गिरने के बाद गाड़ी सीधे दस फीट गहरे चाट में जा गिरी। रात के समय अंधेरे के कारण गाड़ी के अंदर फंसे लोगों को समय से सहायता भी नहीं पहुंची। जो मौत का वजह बना।