शेखपुरा में भाभी के अवैध संबंध का विरोध करने पर देवर की गोली मारकर हत्या, गांव में दहशत 

शेखपुरा में भाभी के अवैध संबंध का विरोध करने पर देवर की गोली मारकर हत्या, गांव में दहशत 

शेखपुरा । शेखोपुरसराय प्रखंड अंतर्गत पांची गांव में गुरुवार की देर रात अपने भाभी का गांव के ही एक युवक से चल रहे अवैध संबंध का विरोध करने पर आरोपी ने देवर की गर्दन में गोली मारकर हत्या कर दी। इस घटना को लेकर जहां परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। पूरे गांव में दहशत का माहौल व्याप्त है। घटना की सूचना मिलते ही शेखोपुरसराय पुलिस मौके पर पहुंचकर शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए शुक्रवार को शेखपुरा सदर अस्पताल लाई है। इस बाबत 38 वर्षीय मृतक दिनेश मांझी की पत्नी रूनी देवी ने बताया कि उसके पति के भाई आनंदी मांझी की पत्नी श्यामफूल देवी का गांव के ही प्रहलाद कुमार प्रसाद उर्फ सोनू के साथ अवैध संबंध था और प्रहलाद कुमार प्रसाद उर्फ सोनू लगातार उसके घर में पड़ा रहता था। गुरुवार की देर शाम को भी आरोपी उसके घर पहुंचा। जहां उसके पति दिनेश मांझी के द्वारा विरोध किया। जिसके बाद आरोपी प्रहलाद कुमार अपने अन्य उसके सात सहयोगियों के साथ उसके पति के साथ गाली गलौज करने लगा। जिसका विरोध करने पर आरोपी प्रह्लाद कुमार उसके पति दिनेश मांझी को सोनू ने गोली मार दी जो सीधे दिनेश मांझी के गर्दन में जा रही। जिससे उसकी मौत तड़प तड़प कर हो गई। वहीं,घटना को अंजाम देकर सभी आरोपी मौके का फायदा उठाकर भाग निकला। घटना की सूचना मिलते ही शेखोपुरसराय थाना मौके पर पहुंचकर मामले की छानबीन शुरू कर दी है।
पूर्व में जान से मारने की मिली थी धमकी
इस घटना को लेकर शेखोपुरसराय थाना में मृतक के पुत्र भरत मांझी के द्वारा प्रहलाद कुमार प्रसाद उर्फ सोनू, रोशन कुमार, गोलू कुमार, रोशन कुमार, भोला प्रसाद और विकास मिस्त्री के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कराई है। उन्होंने बताया कि आनंदी मांझी के पत्नी से मिलने प्रहलाद कुमार प्रसाद उर्फ सोनू हमेशा उसके घर पर आया करता था। जिसका विरोध करने पर पूर्व में भी धमकी जान मारने की धमकी मिल रही थी। इसी को लेकर गुरुवार को भी घटना के कुछ देर पूर्व भी प्रहलाद कुमार प्रसाद उर्फ सोनू एवं आनंदी मांझी के द्वारा धमकी दी गई थी। जिसके उपरांत गोली मारकर उसकी हत्या कर दी।
घटना की सूचना मिलते ही गुरुवार की देर रात्रि ही घटनास्थल पर पहुंच कर जांच पड़ताल शुरू कर दी। इस बाबत शेखोपुरसराय थानाध्यक्ष प्रमोद कुमार ने बताया कि घटना की सूचना मिलते ही शांति व्यवस्था कायम करने को लेकर घटनास्थल पर पुलिस को भेजा गया जो पूरी रात घटनास्थल पर निगरानी रखती रही। इस दौरान आक्रोशित ग्रामीणों के द्वारा आरोपी की गिरफ्तारी को लेकर लगातार मांग करते रहे। जिसके बाद शेखोपुरसराय थाना के द्वारा भाभी  को हिरासत में लेने के 12 घंटे उपरांत शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल लाया गया।
आरोपी महिला से मिलने आता था अक्सर घर
घटना को लेकर पुलिस मृतक के भाभी को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी है। गौरतलब है कि आनंदी मांझी की पत्नी का सोनू महतो के साथ पिछले कई महीनों से अवैध संबंध था। जिसको लेकर लगातार परिजनों के द्वारा विरोध किया जा रहा था। इसके बावजूद भी महिला पर दबाव नहीं बनाया जा रहा था। जिसके कारण आरोपी युवक लगातार महिला से मिलने के लिए उसके घर आया करता था। जिसके कारण इस घटना को अंजाम दिया गया। वहीं, इस घटना को लेकर पूरे परिवार में कोहराम मचा हुआ है। परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। घटना के बाद से गांव में दहशत कायम है।