विवाहिता की हत्या, गड्ढे में मिला शव, नंदोसी पर शक

विवाहिता की हत्या, गड्ढे में मिला शव, नंदोसी पर शक

बुधवार की देर रात की घटना, शव के पास से पुलिस ने हत्या में प्रयोग किए गए कचिया और कीचड़ से सना हुआ चप्पल और एक गंजी किया बरामद
अररिया । जिले के बरदाहा थाना क्षेत्र में एक विवाहिता की तेज धारदार हथियार से गला रेतकर हत्या करने का मामला सामने आया है। मामला बरदाहा थाना क्षेत्र के कौआकोह पंचायत अंतर्गत पोठिया गांव के वार्ड नंबर दस का है। जहां बुधवार की देर रात एक 35 वर्षीय महिला की धारदार हथियार से गला रेतकर हत्या कर शव को गड्ढे में फेंक दिया गया। सूचना पर गुरुवार की सुबह हेडक्वार्टर डीएसपी सुबोध कुमार, सिकटी थानाध्यक्ष हरेश तिवारी, सिकटी थाना के एएसआई शैलेन्द्र कुमार, गिरजा पंडित, बरदाहा थाना के एएसआई हीरा लाल मंडल आदि पुलिस बल के साथ घटना स्थल पर पहुंचे। जैसे ही पंचनामा के बाद पुलिस शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजने की तैयारी की, जिसका ग्रामीणों ने विरोध किया। घटना की जांच को लेकर डॉग स्क्वायड को बुलाने की मांग पर अड़ गए। ग्रामीणों का कहना था कि जबतक हत्यारे की पहचान नहीं होगी तबतक शव का पोस्टमार्टम नहीं होगा। विरोध के आद पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिये सदर अस्पताल अररिया भेज दिया। शुरुआती जांच में पुलिस को अभी तक हत्या के कारण का पता नहीं चल पाया है। वहीं कुछ ग्रामीण हत्या में नंदोसी पर शक जता रहे हैं। इसको लेकर पुलिस ने सुशील के घर पर छापेमारी की, लेकिन वो फरार था। 
कचिया से गला रेत कर की गई है हत्या 
जानकारी के अनुसार पोठिया निवासी प्रकाश ततमा की 35 वर्षीय पत्नी जागेश्वरी देवी अपने एक बेटे के साथ खाना खाकर घर में सोई थी। वहीं दूसरे कमरे में मृतिका की मां भी सोई हुई थी। तभी हत्यरा घर में घुसकर जागेश्वरी का कचिया से गला काटकर घर के पास गड्ढा में शव को फेंक दिया। सुबह करीब तीन बजे मृतिका के मां का नींद खुला तो बरामदे पर खून का धब्बा दिखा। खून के निशान को देखते हुए गई जहां गड्ढा में शव देखा। मृतिका को एक बेटी व दो बेटा है। मृतका की दस वर्षीय बेटी अन्नू कुमारी ने बताया कि मेरी मां रात में खाना खाकर मेरे छोटे भाई सूजीत के साथ घर में सो गयी थी। जब नानी जगी तो खुन के धब्बा को देखकर गड्ढा के पास पहुंची तो वहां पर मेरी मां का शव था।
हत्या में एक से अधिक लोग होने की आशंका 
अनंत चतुर्दशी को लेकर पोठिया गांव में मेला लगा हुआ है। आशंका जाताई जा रही है कि मेला में कार्यक्रम का आयोजन होने के कारण किसी को हो-हल्ला का अवाज नहीं सुनाई दिया गया होगा। वहीं हेडक्वार्टर डीएसपी सुबोध कुमार ने बताया कि हत्या के सभी पहलुओं पर पुलिस जांच कर रही है। तभी हत्या के कारणों का पता चल पाएगा। थानाध्यक्ष हरेश तिवारी ने बताया कि नंदोसी सुशील पर हत्या में शामिल होने का शक है।