भारत ने सीरीज पर किया कब्जा किया

भारत ने सीरीज पर किया कब्जा किया

नई दिल्ली। विराट कोहली की अगुवाई में टीम इंडिया ने पांचवें टी20 में इंग्लैंड को 36 रन से हराया. इसके बाद टीम इंडिया ने सीरीज पर 3-2 से कब्जा कर लिया। एक समय टीम सीरीज में 1-2 से पीछे थी। लेकिन अंतिम दोनों मैच जीतकर टीम इंडिया ने सीरीज पर कब्जा किया। टीम इंडिया ने पहले खेलते हुए दो विकेट पर 224 रन बनाए। यह टीम का इंग्लैंड के खिलाफ टी20 में सबसे बड़ा स्कोर है। जवाब में इंग्लिश टीम 8 विकेट पर 188 रन ही बना सकी। इसके पहले टीम इंडिया ने टेस्ट सीरीज पर 3-1 से कब्जा किया था। दोनों के बीच अब 23 मार्च से तीन मैचों की वनडे सीरीज होगी। इंग्लिश टीम 8 सीरीज और 3 साल बाद कोई टी20 सीरीज हारी है। इसके पहले खेली गई अंतिम 8 सीरीज में से इंग्लैंड ने 7 में जीत हासिल की थी, जबकि एक सीरीज ड्रॉ रही थी। वहीं टीम इंडिया ने लगातार छठी टी20 सीरीज जीती।

लक्ष्य का पीछा करने उतरी इंग्लिश टीम की शुरुआत अच्छी नहीं रही। पारी की दूसरी गेंद पर भुवनेश्वर कुमार ने जेसन रॉय (0) को आउट किया। इसके बाद जोस बटलर (52) और डेविड मलान (68)  ने दूसरे विकेट के लिए 130 रन जोड़े। भुवनेश्वर ने एक बार फिर टीम को सफलता दिलाई। उन्होंने बटलर को आउट किया। इसके बाद उतरे जॉनी बेयरस्टो (7) बड़ी पारी नहीं खेल सके। 15वें ओवर में ही शार्दुल ने मलान को भी आउट किया। इसके बार पूरी इंग्लिश टीम लड़खड़ा गई। कप्तान ऑयर्न मॉर्गन (1) और बेन स्टोक्स (14) फेल रहे। भुवनेश्वर कुमार ने एक बार फिर शानदार गेंदबाजी की। उन्होंने 4 ओवर में 15 रन देकर दो विकेट लिए। शार्दुल ठाकुर ने तीन विकेट झटके।

इससे पहले टॉस हारकर पहले खेलने उतरी टीम इंडिया को विराट कोहली और रोहित शर्मा ने शानदार शुरुआत दिलाई। दोनों ने पहले विकेट के लिए 94 रन जोड़े और दोनों ने अर्धशतक भी लगाया। पहली बार सीरीज में हमारी ओपनिंग जोड़ी ने 50 या उससे अधिक रन जोड़े। सूर्यकुमार यादव (32) ने भी अच्छे हाथ दिखाए। रोहित शर्मा ने 34 गेंद पर 64 रन बनाए। रोहित का यह टी20 में 22वां अर्धशतक है। कोहली ने 28वीं बार अर्धशतकीय पारी खेली। कोहली 80 रन बनाकर नाबाद रहे। 52 गेंद का सामना किया। 7 चौके और 2 छक्का लगाया। हार्दिक पंड्या 17 गेंद पर 39 रन बनाकर नाबाद रहे। कोहली और पंड्या ने तीसरे विकेट के लिए 81 रन की नाबाद साझेदारी की। इंग्लैंड की ओर से क्रिस जॉर्डन और मार्क वुड महंगे साबित हुए। जॉर्डन ने 57 जबकि वुड ने 53 रन दिए।