भैया की साली के प्यार में पागल देवर ने विरोध करने पर भाभी की गोली मार कर दी हत्या

भैया की साली के प्यार में पागल देवर ने विरोध करने पर भाभी की गोली मार कर दी हत्या

खगड़िया । मानसी थाना क्षेत्र के खुटिया गांव स्थित वार्ड-12 में बड़े भाई की साली से एक तरफ प्यार करने के विरोध करने पर सनकी देवर ने भाभी की गोलीमार कर हत्या दी। घटना मंगलवार देर रात की है। गोली लगने से खुटिया निवासी निवास कुमार उर्फ नवसी की पत्नी चंदन देवी की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। घटना की चश्मदीद और मृतक चंदन कुमारी (25 वर्ष) की बहन बहनोई निवास कुमार के छोटे भाई अजीत कुमार उर्फ गुर्रा यादव पर गोली मारकर हत्या करने का आरोप लगा रही हैं। मानसी पुलिस शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के बाद शव को परिजनों को सौंप दिया। घटना के बाद से आरोपी देवर घर छोड़कर फरार हो गया। हालांकि घटना को लेकर शाम तक थाना में कोई आवेदन और शिकायत प्राप्त नहीं हुआ था। घटना के विषय में मृतक के भाई ने बताया कि घर में कई दिनों से पत्नी, माता-पिता व भाई के बीच किसी बात को लेकर हर रोज झगड़ा होता था। इस कारण वे अक्सर बासा पर ही रहते थे। घटना की रात भी वे खाना खाकर बासा पर चले गए। नवसी ने बताया कि मंगलवार की रात भी उसकी पत्नी और भाई बीच गाली-गलौज हुई और इसी दौरान उसके छोटे भाई ने पत्नी को गोली मार दी। जिससे घटनास्थल पर ही उसकी मौत हो गई।

घटना के बाद मोहल्ले में सनसनी फैल गई। घटना को लेकर लोगों में तरह-तरह की चर्चा है। लेकिन पुलिस द्वारा पूछताछ के दौरान घटना की चश्मदीद मृतक की बहन ने घटना का असली राज खोला। चश्मदीद ने मानसी पुलिस को बताया कि मंगलवार की देर रात अजीत कुमार उर्फ गुर्रा शोर शराबा कर खाना मांगा। खाना दिए जाने पर वे अपनी भाभी को गाली-गलौज करने लगा और खाना फेंक दिया। इसी को लेकर दोनों के बीच तनाव बढ़ गया और अजीत ने कुछ देर बाद अपनी भाभी को गोली मार दी। इधर स्थानीय सूत्रों की मानें तो अजीत कुमार उर्फ गुर्रा यादव अपने बड़े भाई निवास के साली से एकतरफा प्यार करता था। निवास की पत्नी चंदन कुमारी इसका विरोध कर रही थी। इसी मामले को लेकर दोनों के बीच अक्सर झगड़ा हुआ करता था।
शराब की तस्करी में भी संलिप्तता की चर्चा
स्थानीय लोगों ने दबी जुबान से बताया कि खुटिया वार्ड 12 में जमकर शराब कारोबार किए जा रहा है। इस बात से स्थानीय चौकीदार भी वाकीफ है। लेकिन उसका कुछ नहीं चलता है। ऐसा नहीं है कि पुलिस कार्रवाई नहीं करती है। पुलिस के कार्रवाई के बावजूद भी कारोबारियों पर कोई प्रभाव नहीं पड़ रहा है। लोगों ने बताया कि ये दोनों भाई भी वर्षों से शराब के धंधे में संलिप्त है। जिसको लेकर भी दोनों के बीच अक्सर विवाद होता रहता था।

हर बिंदु पर हो रही है जांच
मामले में मानसी थानाध्यक्ष दीपक कुमार ने बताया कि घटना हुई है। घटना के आलोक में आवेदन का इंतजार किया जा रहा है। शाम तक आवेदन प्राप्त नहीं हुआ। उन्होंने कहा कि पुलिस अपने स्तर से घटना से संबंधित हर बिंदुओं पर जांच कर रही है। किसी भी सूरत में दोषी बख्शे नहीं जाएंगे।