बक्सर में महिला की लाश लेकर दाह संस्कार के लिए पहुंचे थे ससुराल वाले, पुलिस पहुंची तो भाग गए

बक्सर में महिला की लाश लेकर दाह संस्कार के लिए पहुंचे थे ससुराल वाले, पुलिस पहुंची तो भाग गए

बक्सर । बक्सर के सिमरी थाना क्षेत्र के गंगा घाट पर एक विवाहिता का शव को लेकर पहुंच रहे लोग पुलिस को देखते ही अचानक शव को छोड़ कर सभी फरार हो गए। बुधवार की दोपहर कुछ लोग शव को गंगा में प्रवाह करने के लिए केशोपुर हनुमान घाट पर पहुंच रहे थे, तभी पुलिस को सूचना मिली थी कि उस महिला की हत्या की गई है। इसकी सूचना पर अभी पुलिस घाट पर पहुंचने ही वाली थी कि विवाहिता के शव को छोड़कर अंतिम संस्कार में पहुंचे लोग फरार हो गए। मृतका के मायके वालों सहित सैकड़ों की संख्या में ग्रामीण घाट पर जमा हो गए। इसे लेकर इलाके में सनसनी फैल गयी। ग्रामीणों में तरह- तरह की चर्चाएं हो रही है।
मृतका की बहन गुड़िया का कहना है कि उसकी दीदी प्रियंका देवी (25 वर्षीय) की ससुराल वालों ने हत्या कर दी है। उन्होंने बताया कि गत दो वर्ष पूर्व सिमरी के दूधिपट्टी गांव निवासी शिवजी केशरी के पुत्र आशुतोष केसरी के साथ शादी हुआ था। वहीं इन दोनों का एक छोटा सा बच्चा भी है। गुड़िया ने बताया कि वे लोग सिकरौल थाना क्षेत्र के बीसी बसाव गांव के रहनेवाले है। वहीं इस मामले में मायके वालों ने ससुराल पक्ष पर उनकी बेटी की हत्या करने का आरोप लगा रहे हैं। उनका आरोप है कि ससुराल वाले बीती रात प्रियंका को बेरहमी से पीट-पीटकर जान से मार दिए और बचने के लिए उसके शव को फांसी के फंदे से लटका दिया। बहरहाल, परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। खबर लिखे जाने तक सभी हनुमान घाट केशोपुर में ही मौजूद थे।
इस सम्बंध में थानाध्यक्ष सुनील कुमार निर्झर ने बताया कि विवाहिता का शव मिलने का एक मामला सामने आया है, जिसकी जांच पुलिस कर रही है। फिलहाल, शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल बक्सर भेजा जा रहा है। जांच रिपोर्ट में जो कुछ भी तथ्य सामने आएंगे। उसके आधार पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी।