पुलिसिया निकम्मेपन पर टूटा सब्र का बांध: शिवहर में थानेदार, दारोगा और सीओ की जमकर पिटाई, जान बचाकर भागे वर्दीधारी 

पुलिसिया निकम्मेपन पर टूटा सब्र का बांध: शिवहर में थानेदार, दारोगा और सीओ की जमकर पिटाई, जान बचाकर भागे वर्दीधारी 

शिवहर । शिवहर में आज पुलिसिया निकम्मेपन पर जब लोगों के सब्र का बांध टूट गया तो थानेदार, दारोगा से लेकर सीओ की जमकर पिटाई कर दी। लोगों के गुस्से से डर कर पुलिस भाग खड़ी हुई। ये अलग बात है कि उसके बाद कई थानों से पुलिस को बुलाकर लोगों पर जमकर डंडे बरसाएं गए।
हत्या के बाद भड़का आक्रोश 
मामला शिवहर के तरियानी थाना क्षेत्र का है। अपराधियों ने वहां मोबाइल कारोबारी अशोक कुमार को गोली मार दी थी। अशोक कुमार को इलाज के लिए मुजफ्फरपुर भेजा गया लेकिन उन्होंने दम तोड दिया। इसके बाद लोगों का आक्रोश भड़क उठा। लोगों ने शव के साथ तरियानी थाना क्षेत्र के सुमहूति में रोड जाम कर दिया। उनका आरोप था कि तरियानी थाना पुलिस की लापरवाही के कारण अपराधी बेलगाम हो गए हैं औऱ ताबडतोड़ घटनाओं को अंजाम दे रहे हैं।
थानेदार-दारोगा की जमकर पिटाई
रोड जाम की खबर मिलने के बाद तरियानी थाना पुलिस वहां पहुंची। पुलिस के साथ स्थानीय सीओ भी जामस्थल पर पहुंची। लेकिन पुलिस औऱ प्रशासन की टीम को देखते ही लोगों का आक्रोश औऱ भड़क गया। इस बीच तरियानी के थानेदार ने लोगों को धमकाने की कोशिश जिससे लोग औऱ आक्रोशित हो उठे. उन्होंने पुलिस पर हमला बोल दिया। नाराज लोगों ने तरियानी के थानेदार शोभाकांत पासवान, दरोगा चंद्रशेखर आजाद समेत दूसरे पुलिसकर्मियों औऱ तरियानी के सीओ अमित कुमार की पिटाई शुरू कर दी। उन्हें लाठी डंडे के साथ साथ ईंट पत्थर से जमकर पीटा गया। लोगों के आक्रोश को देखते हुए पुलिस टीम जान बचाकर भाग खडी हुई। तेवर के चलते पुलिस अधिकारी और जवानों को अपनी जान बचानी पड़ी। नाराज लोगों ने रोड़ेबाजी कर थाने की गाड़ी के साथ-साथ सीओ के वाहन को भी क्षतिग्रस्त कर दिया। पुलिस कह रही है कि लोगों के हमले में इंस्पेक्टर शोभाकांत पासवान के अलावा दरोगा चंद्रशेखर आजाद, एक अन्य पुलिस जवान औऱ सीओ अमित कुमार बुरी तरह जख्मी हो गये हैं। 
बाद में पुलिस ने दिखाई अपनी बहादुरी
तरियानी थाना पुलिस के जान बचा कर भागने के बाद शिवहर पुलिस ने अपनी बहादुरी दिखाई। कई थानों की पुलिस को जाम स्थल पर भेजा गया। एसडीपीओ संजय कुमार पांडेय औऱ  एसडीओ इश्तियाक अली अंसारी ने भारी तादाद में पुलिस फोर्स के साथ जामस्थल पर पहुंच कर लोगों पर जमकर डंडे बरसाये। इसके बाद आक्रोशित लोग भाग खड़े हुए। पुलिस ने व्यवसायी अशोक कुमार का शव अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। 
अपराधी नहीं आम लोगों को सबक सिखायेंगे
तरियानी के थानेदार ने कहा कि उपद्रवी तत्वों ने पुलिस पर हमला किया है। पुलिसकर्मियों को घेर कर पीटा गया है। इसलिए पुलिस ऐसे सारे लोगों की पहचान कर रही है। उनकी पहचान कर पकड़ा जायेगा। पुलिस ने अपने ऊपर हुए हमले का केस भी दर्ज कर लिया है। स्थानीय डीएसपी संजय कुमार पांडेय ने भी कहा कि पुलिस पर हमला करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।