दारोगा ने कर दी गर्लफ्रेंड की हत्या, ब्लैकमेलिंग से था परेशान

दारोगा ने कर दी गर्लफ्रेंड की हत्या, ब्लैकमेलिंग से था परेशान

झारखंड । जमशेदपुर के बिष्टुपुर निवासी तृषा उर्फ वर्षा हत्याकांड के मामले में पुलिस को अपराधी के बारे में पक्की जानकारी मिल गई है। एएसआई धर्मेंद्र ने पुलिस को पूरी कहानी बताई है। वहीं पुलिस अपराधी के खिलाफ अब साक्ष्य जुटाने में लगी हुई है। ताकि उसे कड़ी सजा मिल सके। इस मामले में पुलिस धर्मेंद्र सिंह से पिछले दो दिनों से पूछताछ कर रही थी। इस दौरान पुलिस उसको घटनास्थल पर भी लेकर गई और हत्याकांड की सीन का रिक्रियेट कराया। मिली जानकारी के मुताबिक पूछताछ में एएसआई धर्मेंद्र ने पुलिस को हत्याकांड की पूरी कहानी विस्तार से बताई है। पूछताछ में यह साबित हो गया कि वर्षा पटेल की हत्या एएसआई धर्मेंद्र सिंह ने ही की है।

आसपास के लोगों ने पुलिस को बताया कि 12 नवंबर की रात को धर्मेंद्र के साथ वर्षा उसके घर पर आई थी। बाइक से घर पर आने के बाद दोनों अंदर चले गए। उसके बाद देर रात वर्षा की एएसआई धर्मेंद्र ने गला दबा कर हत्या कर दी। पुलिस ने बताया कि वर्षा धर्मेंद्र के टेल्को स्थित घर पर रेगुलर आना- जाना करती थी। दोनों के बीच कई बार शारीरिक संबंध भी बन चूका था। धर्मेंद्र ने पुलिस को बताया है कि वर्षा अवैध सम्बंध के बाद पैसे के लिए ब्लैकमेलिंग करती थी। इसलिए उसको रास्ते से हटाने के लिए उसकी हत्या कर दी। वहीं उसने अकेले ही घटना को अंजाम दिया है।

पुलिस ने बताया कि गला दबा कर हत्या करने के बाद धर्मेंद्र उसके शव को झोला में भरकर देर रात अपने क्वार्टर से बाइक पर निकला। उसके बाद उसे तालाब के सामने स्थित पहाड़ी पर ले गया और फिर उपर से ही उसे फेंक दिया।