दीपावली तक नहीं मिली बुलेट, बीएमपी कर्मी की ली जान, फौजी पति और उसके परिजनों पर आरोप, दो साल पहले हुई थी शादी

दीपावली तक नहीं मिली बुलेट, बीएमपी कर्मी की ली जान, फौजी पति और उसके परिजनों पर आरोप, दो साल पहले हुई थी शादी

खगड़िया । जिले के परबत्ता प्रखंड के सहायक थाना मड़ैया अन्तर्गत अररिया गांव में दीपावली के दिन गुरुवार को बीएमपी में कार्यरत प्रतीक्षा कुमारी (25 वर्ष) को उसके फौजी पति अंकित कुमार एवं ससुराल वालों ने महज एक बुलेट बाइक की फरमाइश पूरी नहीं करने पर गले में फंदा डालकर हत्या कर दी। मृतक डेहरी ऑन सोन जिले में बिहार मिलिट्री पुलिस-2 (बीएमपी) में कार्यरत थी और छुट्टी पर अपने ससुराल आई थी। भागलपुर जिले के अकबर नगर थाना क्षेत्र के श्रीरामपुर गांव निवासी शंभू कुमार सुमन की पुत्री प्रतीक्षा कुमारी की शादी 27 नवंबर 2019 को जिले के मड़ैया थाना क्षेत्र के अररिया गांव निवासी सुनील यादव के पुत्र अंकित कुमार के साथ हुई थी। अंकित फौज में नौकरी करता है, जबकि मृतक प्रतीक्षा कुमारी भी वर्ष 2015 ई में बीएमपी में नौकरी ज्वाइन की थी। मगर महज एक बुलेट बाइक के खातिर उसके पति और ससुरावालों ने प्रतीक्षा की हत्या कर दी। पुत्री की हत्या की जानकारी पर पहुंचे प्रतीक्षा के माता- पिता ने शुक्रवार को मड़ैया थाना में प्रतीक्षा के पति, ससुर, सास, भैंसुर एवं अन्य लोगों पर मारपीट और गले में फंदा डालकर हत्या की एफआईआर दर्ज कराई है।

पोस्टमार्टम के बाद न्याय के लिए शव के साथ किया प्रदर्शन
इधर शुक्रवार को मृतक नवविवाहिता का सदर अस्पताल खगड़िया में पोस्टमार्टम कराया गया। जिसके बाद भागलपुर स्थित मायके से आए परिजनों एवं गोगरी के उसरी गांव स्थित मृतक के ननिहाल परिवार के लोगों ने शव को लेकर गोगरी एसडीपीओ कार्यालय के समक्ष पहुंच गए और कार्यालय का घेराव कर न्याय की मांग करते हुए हत्यारोपित ससुराल वालों की गिरफ्तारी की मांग करने लगे। इस दौरान वहां काफी देर तक लोगों की भीड़ जुटी रही। बहरहाल एसडीपीओ मनोज कुमार ने मृतक के मायके वालों को मामले में आवश्यक एवं उचित कार्रवाई का आश्वासन दिया। जिसके बाद शव को अंतिम संस्कार के लिए ले जाया गया। जबकि मृतक के हत्यारोपित ससुराल वाले फरार हैं।
ससुराल वाले कह रहे आत्महत्या की बात
इधर मृतका के ससुराल वालों का कहना है कि मृतक का अपने पति के साथ गुरुवार की सुबह कुछ बात को लेकर कहासुनी हुई थी। जिसके बाद प्रतीक्षा ने घर के अंदर फांसी का फंदा डालकर आत्महत्या कर ली। हालांकि गांव में इसको लेकर तरह-तरह की चर्चा है। बहरहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।

शादी में मैंने अपने क्षमतानुसार काफी सामान दिया
हत्या मामले में मां रेणू देवी ने अपनी मृत पुत्री के पति अंकित कुमार, ससुर सुनील यादव, सास रेणू देवी, भैसुर आकाश कुमार सहित अन्य लोगों पर हत्या की एफआईआर दर्ज करायी है। आवेदन में कहा गया है कि शादी में मैंने अपने क्षमतानुसार काफी सामान दिया था। शादी के छह माह तक सब कुछ ठीक था, मगर बाद में मेरी पुत्री को प्रताड़ित किया जाने लगा। 15 दिन पूर्व एक बुलेट बाइक की मांग की गई थी। दीपावली तक मांग पूरी नहीं किए जाने पर प्रतीक्षा की हत्या कर दी गई। मामले में मड़ैया थानाध्यक्ष रत्नेश कुमार ने कहा कि मायके वालों के तरफ से हत्या की एफआईआर दर्ज करायी गई है। मामले की जांच की जा रही है।