डॉक्टर की पत्नी की मुंह में गोली मार कर हत्या, बोरिंग रोड में चलाती थी ब्यूटी पार्लर, पार्लर में ही आया था फोन, मीटिंग बता निकली 

डॉक्टर की पत्नी की मुंह में गोली मार कर हत्या, बोरिंग रोड में चलाती थी ब्यूटी पार्लर, पार्लर में ही आया था फोन, मीटिंग बता निकली 

पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में खुलासा, सिर और पेट में मारी गई गोली; खेत में मिली थी लाश
पार्लर की स्टाफ ने किया खुलासा, वारदात स्थल पर नहीं मिला आईफोन और स्मार्ट फोन

पटना । बोरिंग रोड में ब्यूटी पार्लर चलाने वाली 38 साल की महिला की अपराधियों ने नौबतपुर में गोली मारकर हत्या कर दी। यूपी के गाजीपुर में डेंटिस्ट के रूप में प्रैक्टिस करने वाले डॉ. विश्वजीत चतुर्वेदी की पत्नी रिमझिम कुमारी को मुंह में एक गोली मारी गई। नौबतपुर थाना के पुनपुन सुरक्षा बांध के पास शेखपुरा गांव के किसान सुबह में जब खेत गए तो वहां लाश देख पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने मौके से एक खोखा, एक जिंदा कारतूस, खून से सने दो मास्क बरामद किए हैं। रिमझिम का दोनों मोबाइल घटनास्थल पर नहीं मिला। रिमझिम पटना में एसकेपुरी के सहदेव मार्ग स्थित कृष्णा कुंज अपार्टमेंट के फ्लैट नंबर 12 ए में रहती थीं। फ्लैट से करीब 100 मीटर दूर ही वह ब्यूटी केयर क्लीनिक चलाती थीं। मंगलवार की शाम चार बजे वह पार्लर स्टाफ को यह कहकर निकलीं कि मीटिंग में जाना है, उसके बाद नहीं लौटीं। उनका दोनों मोबाइल बंद हो गया। परिजन रातभर मोबाइल पर फोल करते रहे, लेकिन बात नहीं हो सकी। कुछ सुराग नहीं मिलने से रिमझिम के बहनोई रूपसपुर निवासी ब्रजेश कुमार ओझा ने एसकेपुरी थाना में गुमशुदगी का सनहा दर्ज करा दिया। बुधवार को नौबतपुर में लाश मिलने की सूचना परिजनों को मिली। परिजनों ने शव की पहचान की।

हत्या के कारणों का पता नहीं चल सका है, पति गाजीपुर में थे
उनकी हत्या पटना से ले जाकर नौबतपुर में क्यों और किसने की, इसका खुलासा नहीं हो सका है। पुलिस रिमझिम के दोनों मोबाइल का सीडीआर खंगालने में जुटी है कि उनकी आखिरी बात किन-किन लोगों से हुई। फ्लैट में उनके साथ इकलौता बेटा देवश्रील कौशिक और एक दाई रहती है। रिमझिम के पति गाजीपुर में ही क्लीनिक चलाते हैं और हर शनिवार-रविवार को पटना आते हैं। मंगलवार को वह गाजीपुर में थे।
बक्सर में जमीन-जायदाद है इनकी
मूल रूप से बक्सर के इठाढ़ी की रहने वाली रिमझिम पांच बहनों में चौथे नंबर पर थीं। उन्हें भाई नहीं है। गाजीपुर के डॉक्टर विश्वजीत से 2001 में उनकी शादी हुई थी। 15 साल का बेटा डीपीएस, पटना में आठवीं का छात्र है। रिमझिम की मां और पिता का निधन हो चुका है। गांव में रिमझिम के परिवार की अच्छी जमीन-जायदाद है। छोटी बहन श्वेता पाठक ने 2014 में बक्सर से लोकसभा चुनाव भी लड़ा था।

कोई करीबी ही जमीन दिखाने के बहाने ले गया
रिमझिम की हत्या मंगलवार रात में हुई, पोस्टमार्टम में यह बात सामने आई है। पुलिस की अबतक की पड़ताल में यह भी सामने आ चुका है कि कोई भरोसेमंद आदमी जमीन दिखाने के नाम पर उन्हें पार्लर से नौबतपुर ले गया। रिमझिम का मोबाइल कार से नौबतपुर पहुंचने के बाद बंद हुआ। हत्याकांड में दो से अधिक अपराधियों के शामिल होने की बात सामने आ रही है। भले ही उन्हें जमीन दिखाने के बहाने नौबतपुर ले जाया गया, लेकिन हत्या के पीछे वजह पुरानी है। यह वजह उनके कारोबार से जुड़ा हो सकता है या कुछ और, इसका खुलासा अपराधियों की गिरफ्तार के बाद ही हो सकेगा। पुलिस का शक तीन कार पर है। पुलिस अब यह देख रही है कि कौन कार नौबतपुर तक गई। एसएसपी उपेंद्र कुमार शर्मा ने बताया कि हत्या का केस नौबतपुर थाना में दर्ज होगा। परिजनों के फर्द बयान नहीं हुआ है। 

दिल्ली से उनकी दोस्त मिलने को आने वाली थी
रिमझिम की छोटी बहन श्वेता पाठक ने बताया कि दिल्ली से उनकी दोस्त ब्यूटी पटना आई हुई हैं। उन्हें दीदी से मिलना था। शाम में 4:36 बजे दीदी ने दाई को फोन कर कहा था कि पूड़ी बना दो। हम थोड़ी देर में समोसा और कुछ खाने-पीने का सामान लेकर आ रहे हैं। उसके बाद से उनका मोबाइल बंद हो गया। मोबाइल बंद हो जाने की वजह से बात नहीं हुई तो दोस्त मिलने नहीं आईं। श्वेता ने बताया कि पूरा परिवार रातभर उनके दोनों नंबरों पर फोन करता रहा पर मोबाइल बंद था। इधर, उनके पति हत्या की सूचना मिलने के बाद गाजीपुर से नौबतपुर पहुंचे। पोस्टमार्टम के बाद शव उनके अपार्टमेंट आया। शव आते ही वहां कोहराम मच गया। पति और बेटे के साथ बहनों का रो-रोकर बुरा हाल था। 

12:30 बजे फ्लैट से निकली थीं
रिमझिम को दूसरी लहर में कोरोना हुआ था। तब से वह ब्यूटी पार्लर कम आती थीं। उनके ब्यूटी पार्लर में मालती, छोटी समेत तीन महिला स्टाफ काम करती हैं। 10 साल से अधिक से वे पार्लर चला रही हैं। अपार्टमेंट के गार्ड उदय कुमार ने बताया कि मंगलवार को 12:30 बजे वह फ्लैट से पैदल ब्यूटी पार्लर गई थीं।