डीएलएड में नामांकन को 18 से 1 सिंतबर तक करें आवेदन

डीएलएड में नामांकन को 18 से 1 सिंतबर तक करें आवेदन

पटना । डीएलएड के सत्र 2021-23 के कोर्स में इस वर्ष भी टेस्ट के बिना ही नामांकन लिया जाएगा। इसको लेकर शिक्षा विभाग के शोध व प्रशिक्षण के निदेशक ने डायट, बायट व पीटीईसी के प्राचार्य को इससे संबंधित निर्देश भेजकर समय पर नामांकन प्रक्रिया पूरा कराने को कहा है। इसकी तैयारी पूरी कर ली गई है। बताया जाता है कि डीएलएड कोर्स के सत्र 2021-23 को लेकर बिहार विद्यालय परीक्षा समिति की ओर से नामांकन के लिए टेस्ट लेने में असमर्थता जताई गई है। जिससे टेस्ट लिए बिना ही अभ्यर्थियों का नामांकन कोर्स में लेने का निर्देश दिया गया है। इसमें इंटर पास अभ्यर्थियों की मेधा सूची बनाई जाएगी। यह नामांकन पूर्व की तरह ही मैट्रिक व इंटर में प्राप्त अंक को जोड़कर कोटिवार मेधा सूची का निर्माण कर होगा। बताया जाता है कि पिछले वर्ष 2020 में भी कोरोना को लेकर टेस्ट के बिना ही नामांकन प्रक्रिया पूरी की गई थी।
13 सितंबर को सूची होगा प्रकाशन
बताया गया कि 18 अगस्त से नामांकन के लिए आवेदन की प्रक्रिया आरंभ होगी। एक सितंबर तक आवेदन लिए जाएंगे। वहीं नौ सितंबर को मेधा सूची का निर्माण, 13 सितंबर को सूची का प्रकाशन, 20 तक आपत्ति लेना व 27 सितंबर को सूची का अंतिम प्रकाशन किया जाएगा। 
यह होगा छात्र-छात्राओं के चयन का आधार
नामांकन के लिए चयन का आधार दसवीं एवं बारहवीं कक्षा में प्राप्त प्राप्तांकों का प्रतिशत होगा। दोनों कक्षाओं में प्राप्त प्राप्तांकों के प्रतिशत का औसत निकालते हुए नामांकन के लिए मेधा सूची का निर्धारण विषयवार एवं कोटिवार किया जाएगा। प्राप्तांकों के प्रतिशत का औसत समान रहने पर अधिक योग्यताधारी अभ्यर्थी को चयन में प्राथमिकता दी जाएगी। प्राप्तांकों के प्रतिशत का औसत एवं योग्यता समान रहने पर अधिक उम्र वाले अभ्यर्थी को चयन में प्राथमिकता दी जाएगी। प्राप्तांकों के प्रतिशत का औसत योग्यता तथा जन्मतिथि समान रहने पर अभ्यर्थी के अंग्रेजी वर्णमाल में लिखे जाने वाले नाम के वर्णाक्षर के आधार पर जो नाम वर्णाक्षर में पहले आएंगे उन्हें प्राथमिकता दी जाएगी। बताया गया कि डीएलएड कोर्स में नामांकन के लिए अभ्यर्थियों को इंटर में 50 फीसदी अंक होना अनिवार्य है। वहीं एससी- एसटी व नि:शक्त को पांच फीसदी की छूट होगी। उर्दू के लिए योग्यता 50 फीसदी के साथ मौलवी व नि:शक्त को 5 फीसदी छूट मिलेगी।