ट्रक और ऑटो में टक्कर, कोचिंग जा रहे तीन छात्र समेत चार लोगों की मौत

ट्रक और ऑटो में टक्कर, कोचिंग जा रहे तीन छात्र समेत चार लोगों की मौत

मुंगेर। कोचिंग जा रहे बच्चों का ऑटो विपरीत दिशा से आ रहे ट्रक से टकरा गया और देखते ही देखते तीन छात्र और ऑटो चालक की मौत हो गई, जबकि छह बच्चे गंभीर रूप से घायल हो गए। ऑटो में नौ बच्चे सवार थे। यह हादसा मंगलवार सुबह करीब 5.45 बजे जमुई-मुंगेर मुख्य मार्ग एनएच-333 पर नजरी के पास हुआ। मरने वालों की पहचान हवेली खड़गपुर के मोहनपुर निवासी पप्पू शर्मा के पुत्र रितिक कुमार (16 वर्ष), संतोष पासवान की पुत्री सोनाली कुमारी (15 वर्ष), मोहन यादव के पुत्र केशव कुमार (16 वर्ष) और राय टोला बनबसा निवासी ऑटो चालक विपिन राय के पुत्र मनीष राय (24 वर्ष) के रूप में हुई है। तीनों विद्यार्थी 11वीं व 12वीं में पढ़ते थे। बताया जाता है कि ट्रक और ऑटो में टक्कर होने के बाद जोरदार आवाज हुई। आवाज सुनकर आसपास के लोग घटनास्थल पर पहुंचे। कुछ ही देर में मृतक के परिजन भी वहां पहुंच गए। इसके बाद आक्रोशित ग्रामीण और परिजनों ने चारों शवों को बीच सड़क पर रखकर जाम कर दिया और ट्रक में आग लगा दी। ट्रक का ड्राइवर और खलासी हादसे के बाद मौके से फरार हो गया। सुबह 6:00 से दोपहर 1.00 बजे तक जाम रहा। घटना की जानकारी मिलने पर एसडीओ अमिताभ प्रसाद गुप्ता, एसडीपीओ राकेश कुमार, स्थानीय विधायक राजीव कुमार सिंह पहुंचे और लोगों को समझाकर जाम को समाप्त करवाया। सात घंटे बाद दोपहर 1:00 बजे के बाद ट्रैफिक बहाल हुई। लोगों ने बताया कि रोज की तरह मंगलवार सुबह सभी छात्र अपने गांव से मोहनपुर से हवेली खड़गपुर कोचिंग जा रहे थे। सभी गांव से निकलकर हाईवे पर स्थित रायपुर मोड़ पहुंचे, जहां से खड़गपुर की तरह जा रहे मनीष के ऑटो पर सवार हुए। यहां से एक किलोमीटर आगे बढ़ते ही नजरी के पास हादसा हुआ। हादसे में छह बच्चे भी जख्मी हो गए। जिनकी पहचान मोहनपुर निवासी रोहित कुमार, हरेंद्र कुमार, प्रियांशु कुमार, पूजा कुमारी, सीमा कुमारी, अन्नू कुमारी के रूप में हुई है। सीमा, पूजा और अन्नु का इलाज भागलपुर में चल रहा है, जबकि रोहित, हरेंद्र और प्रियांशु का इलाज हवेली खड़गपुर सीएचसी में चल रहा है। 

ट्रक चालक पर केस दर्ज  
एसडीओ, एसडीपीओ, स्थानीय विधायक ने ग्रामीणों व परिजनों को सरकारी प्रावधान के तहत मृतकों के आश्रितों को पांच-पांच लाख रुपए देने,  तत्काल मुख्यमंत्री परिवार कल्याण योजना के तहत 20000 एवं कबीर अंत्येष्टि के तहत 3000 नगद देते हुए जाम को समाप्त करवाया। छात्र  रितिक के पिता पप्पू शर्मा ने गंगटा थाने में ट्रक चालक व वाहन पर प्राथमिकी दर्ज कराई है। दूसरी ओर ट्रक जलाने को लेकर भी एक प्राथमिकी दर्ज की गई है।