जहानाबाद : बाइक चोरी में पूछताछ के लिए लाए गए युवक ने थाने के बाथरुम में टेलीफोन की तार से लगा ली फांसी, मौत के बाद बवाल

जहानाबाद : बाइक चोरी में पूछताछ के लिए लाए गए युवक ने थाने के बाथरुम में टेलीफोन की तार से लगा ली फांसी, मौत के बाद बवाल

जहानाबाद । घोसी थाना क्षेत्र के लखावर गांव के समीप से बुधवार की शाम बाइक चोरी के एक मामले में पूछताछ के लिए थाने में लाए गए एक युवक गिरिजेश कुमार ने थाना के बाथरुम में टेलीफोन की तार से फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। हालांकि मृतक के परिजन पुलिस पर युवक की हत्या का आरोप लगा फंदे में टांग देने की बात बता रहे हैं। पुलिस कस्टडी में युवक की मौत की खबर सामने आते ही पूरे जिले में खलबली मच गई। घटना की जानकारी मिलने के बाद मृतक के परिजन के अलावा गांव से काफी संख्या में लोग थाना के समीप जमा हो गए। गुस्साए लोग थाने में घुस गए और शव को अपने कब्जे में लेकर थाने के समीप ही सड़क पर बैठ गये। मृतक के परिजन पुलिस पर हत्या का आरोप लगा हंगामा करने लगे। धीरे-धीरे भीड़ काफी बढ़ गई और तनाव बढ़ता चला गया। देखते-देखते भीड़ की ओर से रोड़ेबाजी शुरु हो गई। रोड़ेबाजी में एसडीएम व दारोगा के अलावा कई पुलिसकर्मी चोटिल हो गए। रोड़ेबाजी में कई वाहन भी क्षतिग्रस्त हो गए। इसके बाद पुलिस ने मोर्चा संभाला और हल्का बल प्रयोग करते हुए हंगामा कर रहे लोगों को खदेड़ दिया। घटना की सूचना मिलने के बाद एसपी दीपक रंजन भी वहां पहुंच गए। थोड़ी देर बाद फिर से भीड़ उग्र हो गई और जमकर रोड़ेबाजी होने लगी। बताया जाता है कि भीड़ में शामिल कुछ शरारती तत्वों ने फायरिंग कर दी। मामला बिगड़ता देख  पुलिस ने भी हवाई फायरिंग की। फायरिंग होते ही भीड़ तितर-बितर हो गई। पुलिस ने दो लोगों को हिरासत में भी लिया है। पुलिस ने मौके की नजाकत को समझते हुए शव को अपने कब्जे में ले लिया और तुरंत पोस्टमार्टम के लिए जहानाबाद भेज दिया। 

बुधवार को पूछताछ के लिए लाया गया था थाना
मिली जानकारी के अनुसार घोसी थाने की पुलिस ने बुधवार को लखावर गांव के सत्येन्द्र यादव के बेटे गिरिजेश कुमार बाइक चोरी के एक मामले में पूछताछ के लिए थाना लाई थी। उससे पूछताछ की गई। पूछताछ के बाद उसे हाजत में रखा गया। बताया जाता है कि उक्त युवक शौच करने की बात कहकर थाना परिसर की शौचालय में गया। जब काफी देर तक वह बाहर नहीं निकला तो जानकारी जुटाने के उद्देश्य से एक चौकीदार शौचालय के पास गया। उसने देखा कि शौचालय का दरवाजा अंदर से बंद है और उक्त युवक खिड़की से फांसी के फंदे से लटका हुआ है। चौकीदार शोर मचाते हुए भागा और इसकी जानकारी अधिकारियों को दी। 
ओडी अफसर व हाजत प्रभारी समेत तीन पर हुई कार्रवाई
एसपी दीपक रंजन ने बताया कि प्रथमदृष्टया ओडी अफसर, हाजत प्रभारी व हाजत डयूटी पर लगे चौकीदार पर कार्रवाई की गई है। उन्हें तत्काल प्रभाव से निलंबित किया गया है। पूरी घटना की जांच वह स्वयं कर रहे हैं। थाने में लगी सीसीटीवी के फुटेज से कई साक्ष्य मिले हैं। साक्ष्य के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी। अब तक जो साक्ष्य मिले हैं, उसके आधार पर स्पष्ट है कि युवक ने अंदर से टॉयलेट का दरवाजा बंद कर फांसी लगा ली है। लेकिन, यह किन परिस्थितियों में हुआ, इसकी भी जांच की जाएगी। हालांकि फायरिंग के सवाल पर एसपी ने इंकार किया।