जमीन विवाद में किसान को अगवा कर लाठी-डंडे से पीट-पीटकर हत्या

जमीन विवाद में किसान को अगवा कर लाठी-डंडे से पीट-पीटकर हत्या

गोपालगंज । जमीन के कुछ चंद टुकड़ों के लिए नामजद लोगों ने एक किसान की बेरहमी से पीट पीटकर हत्या कर दी। इस घटना के बाद गांव के दोनों गुटों में तनाव की स्थिति बनी हुई है। पुलिस हत्या में शामिल लोगों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रही है। जमीन विवाद में एक किसान को अगवा कर उसकी हत्या कर दी गई। घटना महम्मदपुर थाने के देवकुली गांव की है। मृत अधेड़ स्वर्गीय सहदेव ठाकुर के पुत्र उपनेत ठाकुर उर्फ हीरो ठाकुर बताया जाता है। हत्या की वारदात के बाद से सभी आरोपी फरार बताए जाते है। जिनकी गिरफ्तारी को लेकर छापेमारी की जा रही है। 
पड़ोसी से चल रहा था जमीन को लेकर विवाद 
 बताया जाता है की  उपनेत ठाकुर उर्फ हीरो ठाकुर का पड़ोस में ही कुछ लोगों से जमीन का  विवाद कई सालों से चल रहा था। बुधवार की देर शाम लाठी डंडे से लैस होकर नामजद पहुंचे और उसे अगवा कर लिया पिता को बचाने गई बेटी रिया कुमारी के साथ भी मारपीट की गई। जख्मी हालत में बाप बेटी को इलाज के लिए सामुदायिक स्वास्थ केंद्र बैकुंठपुर में भर्ती कराया गया। जहां डाक्टरों ने चिंताजनक स्थिति में प्राथमिक उपचार के बाद दोनों को बेहतर इलाज के लिए सदर अस्पताल गोपालगंज रेफर कर दिया। सदर अस्पताल गोपालगंज जाने के दौरान रास्ते में ही मौत हो गई। पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया है।
हत्या के बाद परिजनों में मचा कोहराम
महम्मदपुर थाने के देवकुली गांव में पीट-पीटकर की गई उपनेत ठाकुर की हत्या के बाद परिजनों में कोहराम मच गया है। उपनेत ठाकुर अपने परिवार का इकलौता कमाऊ सदस्य था। जिसकी मौत के बाद परिजनों के समक्ष आर्थिक संकट उत्पन्न हो सकता है। मृतक की पत्नी शांति देवी अचानक हुई इस घटना से आहत है। पति के शव के समीप विलाप कर रही शांति देवी बच्चों के भविष्य को लेकर भी आंसू बहे जा रही थी। वृद्ध माता अशर्फी कुंवर की हालत भी बेटे के गम में बिगड़ती जा रही है। बेटी रिया कुमारी जख्मी हालत में भी दादी व मां को सांत्वना दे रही थी। मृतक के दो बेटे मनीष ठाकुर और अंपू ठाकुर कम उम्र में ही परिवार की आर्थिक स्थिति संभालने के लिए मुंबई में मेहनत मजदूरी करने चले गए हैं। घटना की सूचना मिलने के बाद दोनों बेटे मुंबई से घर के लिए चल पड़े हैं। घटना से आहत देवकुली गांव के कई घरों में गुरुवार को चूल्हे तक नहीं जल सके। स्थानीय लोग मृतक के परिजनों को सांत्वना दे रहे थे।
मृतक की पत्नी के बयान पर दर्ज हुई एफआईआर 
थानाध्यक्ष शशि रंजन कुमार ने बताया कि मृतका की पत्नी शांति देवी द्वारा थाने में इसी गांव के छह लोगों के खिलाफ आवेदन दिया है। परिजन इस घटना के बाद से दहशत में हैं। परिजनों का कहना है कि आरोपित फिर किसी बड़ी घटना को अंजाम दे सकते हैं।