चचेरे देवर से अवैध संबंध का विरोध करने पर महिला ने आग लगा दे दी जान, मां बोली-ससुराल में खाना बनाने के दौरान झुलसने से हुई मौत

चचेरे देवर से अवैध संबंध का विरोध करने पर महिला ने आग लगा दे दी जान, मां बोली-ससुराल में खाना बनाने के दौरान झुलसने से हुई मौत

सुल्तानगंज । चचेरे देवर से अवैध संबंध का विरोध करने पर महिला ने खुद के शरीर पर केरोसिन छिड़क आग लगा ली। इस घटना में उसकी मौत हो गई। दिल दहलाने वाली यह घटना बाथ थाना क्षेत्र के इंग्लिश रतनपुर गांव में सोमवार देर रात की है। जहां राकेश शर्मा की पत्नी स्वर्णिका शर्मा (21 वर्ष) ने आत्महत्या कर ली। घटना के समय महिला की मां मुंगेर जिला के नया रामनगर थाना क्षेत्र के उदयपुर नौवागढ़ी निवासी आशा शर्मा और पिता विनोद शर्मा भी उसके ससुराल में ही थे। ससुराल और मायके वाले मामले को दबाना चाहते थे। इस कारण पुलिस को इसकी सूचना मंगलवार देर शाम दी। सूचना पर थानाध्यक्ष मनीष कुमार पुलिस बल के साथ पहुंचे और परिजनों से पूछताछ की। 
महिला की मां ने पुलिस को बताया कि बेटी ने आत्महत्या नहीं की है। देर शाम खाना बनाने के दौरान झुलसने से उसकी की मौत हुई है। इसमें ससुरालवालों का कोई दोष नहीं है। इसके बाद पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भागलपुर भिजवा दिया। थानाध्यक्ष मनीष कुमार ने बताया कि महिला के मां-पिता के बयान पर यूडी केस दर्ज किया गया है। 
7 दिन पहले चचेरे देवर के साथ भाग गई थी स्वर्णिका
ग्रामीणों ने बताया कि स्वर्णिका शर्मा ने दो साल पहले राकेश शर्मा से प्रेम विवाह किया था। सात दिन पहले वह अपने चचेरे देवर के साथ घर से भाग गई थी। सोमवार को ही उसके ससुराल और मायके वाले उसे ढूंढकर घर लाए थे। दोनों पक्षों के बीच मामले को सुलझाने को लेकर बातचीत का दौर चल रहा था। इसी बीच स्वर्णिका ने अपने कमरे में गई और शरीर पर केरोसिन छिड़कर आग लगा ली। जब तक लोग उसे बचाने की कोशिश करते तब तक उसकी मौत हो चुकी थी। घटना के समय महिला के माता-पिता भी वहां मौजूद थे। इस कारण ससुरालवालों पर किसी तरह का कोई आरोप नहीं लगा रहे हैं।