चौकीदार पुत्र समेत 4 ने नाबालिग से किया रेप, बोले-घर में कहोगी तो बहन से भी करेंगे दुष्कर्म

चौकीदार पुत्र समेत 4 ने नाबालिग से किया रेप, बोले-घर में कहोगी तो बहन से भी करेंगे दुष्कर्म

रेप का वीडियो बनाकर किसी से न कहने की दी धमकी, थानेदार ने भी पीडि़ता को पीटा और कहा-गर्दन काट देंगे
गया । गया के बाराचटटी प्रखंड के धनगाईं इलाके में नाबालिग से गैंगरेप की वारदात सामने आई है। घटना के बाद एक महीने से अधिक समय तक 16 वर्षीय नाबालिग किस तरह खुद मानसिक रूप से और आरोपितों से प्रताड़ित होती रही, यह अत्यंत ही मर्माहत करने वाला है। बड़ी बात यह है कि दुष्कर्म की घटना के चार आरोपितों में से मुख्य आरोपित चौकीदार का पुत्र है। कई तरह की मनोदशा से गुजरने के बाद आखिरकार मंगलवार को गैंगरेप पीड़ित नाबालिग महिला थाना पहुंची। 
महिला थाना में दिए गए आवेदन में पीड़िता ने कहा है कि वह 12 अक्टूबर को खेत में बकरी बांधने गई थी। इसी बीच चार युवकों ने छेड़छाड़ करते हुए घेरकर दुष्कर्म किया। बारी-बारी से रेप का वीडियो बनाया। धमकी देते हुए बोले कि घर में कहोगी तो वीडियो वायरल कर देंगे। तुम्हारी बहन से भी दुष्कर्म करेंगे और भाई को मार दिया जाएगा। घटना करने वालों में धनगाईं थाना का चौकीदार विजय पासवान का पुत्र विकास पासवान, विपीन सिंह उर्फ विकू पिता परशुराम सिंह, श्रवण कुमार पिता नरेश राम, आशीष कुमार पिता हुलास ठाकुर शामिल थे। सभी आरोपित धनगाईं थाना क्षेत्र के बताए जा रहे हैं।
आरोपितों के नाम सुनते ही बोले-किसी को मत बताना, गोली मारने की दी धमकी
पुलिस को बताया है कि दुष्कर्म करने वालों की वीडियो वायरल करने व अन्य धमकी के कारण उसने घर में कुछ नहीं बताया। मां से भी कुछ नहीं कह पाई। नाबालिग गैंगरेप पीड़िता के प्रताड़ना की कहानी 12 अक्टूबर से जो शुरू हुई थी, वह 20 नवम्बर को धनगाईं थाना में जारी रही। पीड़िता का आरोप है कि थाने के चौकीदार विजय पासवान के पुत्र विकास पासवान का नाम आते ही धनगाई थानाध्यक्ष कहने लगे, कि किसी को मत बताना। हिम्मत करके चिल्लाकर बोलने लगी तो थानाध्यक्ष ने मेरे साथ काफी मारपीट की और गर्दन पर चाकू रख दिया। कहा कि गर्दन काट दंेगे। आरोप यह भी है कि थानाध्यक्ष ने एक तो चौकीदार दूसरे में उन्हीं के जाति होने को लेकर रात के दस बजे तक प्रताड़ित किया। गोली मारने की भी धमकी दी।
गैंगरेप के बाद वीडियो बनाया, डर से जान देने के लिए चली गई थी पीड़िता
गया जिला अंतर्गत बाराचटटी प्रखंड के धनगाईं इलाके में नाबालिग से गैंगरेप की वारदात सामने आई है।  इधर, कुकृत्य करने वाले चारों युवकों की धमकी के बाद पीड़िता आत्महत्या करने के लिए पहाड़ की तरफ चली गई। समझ में नहीं आ रहा था और भाग रही थी। धनगाईं थाना के बगल से गुजरने के दौरान पुलिस ने पकड़ लिया और मारपीट करते हुए थाना लाई। उसी समय मुझे खोजते हुए मेरी मां-बहन भी पहुंचे। मेरी मां-बहन भी पहुंचे। इसके बाद थाना प्रभारी मुझे कमरे में ले गए, अन्य परिजनों को बाहर बैठने के लिए। रात के 9 बज रहे थे। धनगाईं थाना के थानाध्यक्ष ने सारी बातों की जानकारी ली। इधर, पीड़िता का आरोप है कि थाने के चौकीदार विजय पासवान के पुत्र विकास पासवान का नाम आते ही धनगाई थानाध्यक्ष कहने लगे, कि किसी को मत बताना।
एएसपी करेंगे धनगाईं थानेदार की भूमिका की जांच
सहायक पुलिस अधीक्षक (विधि व्यवस्था) भारत सोनी मामले की जांच करेंगे। उन्हें निर्देश दिए गए हैं। इस घटना में चौकीदार का पुत्र समेत अन्य आरोपित हैं, दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा।  
आदित्य कुमार,एसएसपी गया