खुशखबरी : रसोई गैस सिलेंडर पर मिल रही है सब्सिडी, अब ग्राहकों के खाते में 237 रुपए ट्रांसफर, करें चेक? 

खुशखबरी : रसोई गैस सिलेंडर पर मिल रही है सब्सिडी, अब ग्राहकों के खाते में 237 रुपए ट्रांसफर, करें चेक? 

नई दिल्ली । रसोई गैस की कीमतों में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। पिछले सात सालों में कीमतें दोगुनी से भी अधिक हो गई हैं। हालांकि, इस बीच ग्राहकों के लिए अच्छी खबर आ रही है। जी हां.. रसोई गैस सिलेंडर पर एक बार फिर से सब्सिडी दी जा रही है। ग्राहकों के खाते में सब्सिडी के पैसे ट्रांसफर किए गए हैं। जानकारी के मुताबिक अब एलपीजी गैस उपभोक्ताओं को 79.26 रुपए प्रति सिलेंडर सब्सिडी के रूप में दिया जा रहा है।
हालांकि, कुछ ग्राहकों को 158.52 या 237.78 रुपए सब्सिडी मिल रही है। ऐसे में इस पर कंफ्यूजन अभी भी बना हुआ है। बता दें कि पिछले कई दिनों से ऐसे मामले आ रहे थे कि ग्राहकों के खाते में सब्सिडी नहीं दी जा रही है। हालांकि, अब शिकायतें आनी बंद हो गई है।
आप भी कर ले चेक
बता दें कि गैस सब्सिडी का पैसा चेक करने के दो तरीके हैं। पहला रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर के जरिए और दूसरा एलपीजी आईडी के जरिए, जो आपके गैस पासबुक में लिखी होती है। आइए जानते हैं कि इसका प्रोसेस क्या है? 
1. सबसे पहले तो आप http://mylpg.in/  पर जाएं और वहां LPG Subsidy Online पर क्लिक करें। यहां आपको तीन एलपीजी सिलेंडर कंपनियों के टैब दिखाई देंगे। आपका सिलेंडर जिस कंपनी का है, उसपर क्लिक करें। मान लीजिए कि आपके पास इंडेन गैस का सिलेंडर है तो Indane पर क्लिक करें।
2. इसके बाद Complaint विकल्प को चुनकर Next के बटन पर क्लिक करें। फिर एक नया इंटरफेस खुलकर आपके सामने आएगा, जिसमें आपकी बैंक डिटेल्स होगी। डीटेल्स से आपको पता चल जाएगा कि सब्सिडी का पैसा आपके खाते में आ रहा है या नहीं।
सब्सिडी पर सरकार का कितना खर्च?
सब्सिडी पर सरकार का खर्च वित्तीय वर्ष 2021 के दौरान 3,559 रुपये रहा। वित्तीय वर्ष 2020 में यह खर्च 24,468 करोड़ रुपये का था। दरअसल ये डीबीटी स्कीम के तहत है जिसकी शुरुआत जनवरी 2015 में की गई थी जिसके तहत ग्राहकों को गैर सब्सिडी एलपीजी सिलेंडर का पूरा पैसा चुकाना होता है। वहीं, सरकार की तरफ से सब्सिडी का पैसा ग्राहक के बैंक खाते में रिफंड कर दिया जाता है। चूंकि यह रिफंड डायरेक्ट होता है, इसलिए स्कीम का नाम DBTL रखा गया है।