किशनगंज में शादी के चार दिन बाद ही पत्नी की हत्या कर पति फरार, पोखर में फेंका मिला शव

किशनगंज में शादी के चार दिन बाद ही पत्नी की हत्या कर पति फरार, पोखर में फेंका मिला शव

किशनगंज । मेहंदी का रंग उतरने से पहले बीवी की हत्या कर लाश को गांव के तालाब में फेंककर शौहर फरार हो गया। घटना पोठिया प्रखंड के पहाड़कट्टा थाना क्षेत्र के जहांगीरपुर पंचायत की है। ग्रामीणों की सूचना पर गुरुवार को पुलिस घटनास्थल पर पहुंची और शव को बरामद कर पोस्टमार्टम के सदर अस्पताल भेज दिया। इसके पूर्व पुलिस ने ग्रामीणों का बयान लिया। बेलपोखर गांव के मो. सोहराब की बेटी सुहाना परवीन (19) की धनतोला पश्चिम बंगाल निवासी इकरामुल आलम से एक अगस्त को हुई थी। 
 गुरुवार की सुबह गांव के लोग जब अपनी खेतों की ओर जा रहे थे तो उनकी नजर तालाब में उतराते एक लड़की के शव पर पड़ी। ग्रामीणों ने शव को बाहर निकाला। घटना की सूचना गांव में फैलते ही बड़ी संख्या में ग्रामीण तालाब के किनारे जुटने लगे। मौके से ही मामले की सूचना पहाड़कट्टा थानाध्यक्ष आरिज एहकाम को दिया गया। सूचना मिलते ही सब इंस्पेक्टर ओम प्रकाश व एएसआई इंद्रमणि महतो सदल-बल मौके पर पहुंचे। यहां पुलिस ने गांववालों का बयान लिया और पंचनामा तैयार कर शव को अपने कब्जे में ले लिया। फिर पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल किशनगंज भेज दिया। मृतका के परिजनों सहित ग्रामीणों ने नवविवाहिता के शौहर इकरामुल पर हत्या कर शव को तालाब में फेंक देने की आशंका जताई है। दूसरी ओर आरोपी घटना के बाद बुधवार की रात से ही फरार है।
31 जुलाई को दोनों को चाय बगान में साथ देखा गया था
ग्रामीणों ने बताया कि चार दिन पूर्व ही सुहाना की शादी इकरामुल आलम से हुई थी। मृतका एवं आरोपी इकरामुल आलम, धनतोला (पश्चिम बंगाल) के बीच बीते कुछ दिनों से प्रेम-प्रसंग चल रहा था। बीते 31 जुलाई को तरिया गांव के समीप चाय बागान में दोनों को आपत्तिजनक स्थिति में वहां के लोगों ने देखा था। इसके बाद दोनों को स्थानीय लोगों ने गांव लाकर युवती के परिजनों के हवाले कर दिया। युवती के परिजन एवं गांव के लोगों की इसके बाद बैठक हुई, जिसमें शादी कराने की बात तय हुई।
इस्लामिक रीति-रिवाज से हुई थी शादी
बैठक के बाद एक अगस्त 2021 को इस्लामिक रीति-रिवाज के मुताबिक रजिस्टर्ड दारुल कज़ा इदारा-ए-शरिया किशनगंज के मरकजी दफ्तर दारुल उलूम चिस्तिया खगड़ा खानकाह में गवाहों के सामने दोनों का निकाह कराया गया। निकाह के बाद नव विवाहित दंपति को युवती के गांव लाया गया। लड़की पक्ष के लोगों द्वारा गुरुवार को युवक के घर जाकर समझौता करने को लेकर बैठक की तिथि तय की गई थी। इसी बीच बुधवार की देर रात्रि नवविवाहिता दंपति घर से अचानक गायब हो गए।
कार्रवाई में जुटी पुलिस
सब इंस्पेक्टर ओम प्रकाश ने बताया कि ग्रामीणों द्वारा युवती का शव देखे जाने की सूचना दी गयी थी। शव की शिनाख्त हो गयी है। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। मृतका के परिजन सहित ग्रामीणों का बयान पुलिस ने लिया है। इसी के आधार पर पुलिस अग्रिम कार्रवाई में जुटी है। घटना की जांच कर विधिसम्मत कार्रवाई की जाएगी।